उत्तर प्रदेश के हाथरस की एक 19 वर्षीय दलित महिला की दिल्ली के सफ़दरजंग अस्पताल में मृत्यु हो गई। न्यूज़ रिपोर्ट के अनुसार, इस महिला के साथ उसके गांव के 4 सवर्णों ने बीते 14 सितंबर को गैंगरेप किया था।

save-daughter

पहले महिला को ज़िला अस्पताल में भर्ती किया गया। महिला की जीभ काट दी गई थी और उसकी रीढ़ की हड्डी बुरी तरह ज़ख़्मी थी। इसके बाद महिला को अलीगढ़ अस्पताल में भर्ती किया गया जहां से उसे दिल्ली के सफ़दरजंग अस्पताल ले जाया गया। पुलिस का कहना है कि महिला को खेतों में घसीट के ले जाया गया जहां उसके साथ गैंगरेप किया गया।

बीते 23 सितंबर को महिला ने स्टेटमेंट दिया था जिसके आधार पर चारों दोषियों को गिरफ़्तार किया गया।

The Indian Express की रिपोर्ट के अनुसार, महिला के परिवार का आरोप है कि मुख्य आरोपी और उसका परिवार, गांव के दलितों को परेशान करते थे। मुख्य आरोपी के दादा को लगभग 2 दशक पहले, मृतका के दादा के साथ मार-पीट करने के आरोप में 3 महीने की जेल हुई थी।

मृतका के भाई का कहना है कि मुख्य आरोपी, शराबी है और अक्सर महिलाओं को परेशान करता था पर किसी ने कभी कोई शिकायत दर्ज़ नहीं की।