बॉलीवुड में ड्रग्स कनेक्शन पिछले कई दिनों से खबरों में बना हुआ है। दीपिका पादुकोण, सारा अली खान और श्रद्धा कपूर जैसे सितारों से एनसीबी ने पूछताछ भी की। अब एक्टर अक्षय कुमार ने इस पर रिएक्ट किया है।

अक्षय कुमार ने ट्विटर पर शेयर किया वीडियो

वीडियो में अक्षय कुमार बोल रहे हैं- ‘आज थोड़े भारी दिल से आपसे बात कर रहा हूं। पिछले कुछ हफ्तों में बहुत सी बातें आई मन में कहने के लिए लेकिन हर तरफ इतनी निगेटिविटी है कि समझ में नहीं आता है क्या, कितना और किससे बोलूं. देखिए स्टार्स भले ही हम कहलाते हैं लेकिन बॉलीवुड को आपने अपने प्यार से बनाया है। हम सिर्फ एक इंडस्ट्री नहीं हैं, हमने फिल्मों के जरिए हमारे देश के कल्चर हमारी वैल्यूज को दुनिया के हर कोने तक पहुंचाया है।’

akshay-into-the-wild

‘जब- जब हमारे देश की जनता के सेंटीमेंट्स की बात आई, आप लोग जैसे भी महसूस कर रहे थे, इतने सालों से फिल्मों ने उसे दिखाने की कोशिश की। चाहे वो एंग्रीयंगमैन वाला आक्रोश हो, या फिर करप्शन हो, गरीबी हो, बेरोजगारी हो हर ईश्यू को सिनेमा ने अपने तरीके से दिखाने की कोशिश की।’

आगे अक्षय ने कहा- ‘ऐसे में अगर आज आपके सेंटीमेंट में गुस्सा है तो वो गुस्सा भी हमारे सर माथे पर। सुशांत सिंह राजपूत के अचानक निधन के बाद से ऐसे बहुत से इश्यूज सामने आए हैं। जिन्होंने हमें भी उतना ही दर्द दिया है जितना आप सभी को। इन मुद्दों ने हमें अपने गिरेबान में झांकने को मजबूर किया है। हमारी फिल्म इंडस्ट्री की ऐसी बहुत सी खामियों को देखने को मजबूर किया है जिन पर ध्यान जाना बहुत जरूरी है।’

‘जैसे नारकोटिक्स और ड्रग्स के बारे में आजकल बात हो रही है. मैं आज दिल पर हाथ रखकर कैसे आप लोगों से झूठ बोल दूं कि ये प्रॉब्लम एग्जिस्ट नहीं करती. जरूर करती है. वैसे ही जैसे ही हर इंडस्ट्री में और हर प्रोफेशन में होती होगी. पर हर प्रोफेशन का हर इंसान इसमें इंवॉल्व हो ऐसा नहीं हो सकता. ऐसे थोड़े होता है ।’

akshay-kumar

अक्षय ने कहा- ‘मुझे विश्वास है कि हमारी लॉ इंफोर्समेंट, अथॉरिटी और कोर्ट इस पर जो भी जांच, जो भी एक्शन ले रही है वो बिल्कुल सही होगा। और मैं ये भी जानता हूं कि फिल्म इंडस्ट्री का हर इंसान उनके साथ पूरी तरह को-ऑपरेट करेगा। पर प्लीज हाथ जोड़कर कहता हूं कि ऐसा तो मत करो न पूरी इंडस्ट्री को एक ही बदनाम दुनिया जैसी नजरों के साथ देखने लगो, ये सही नहीं है, ये गलत है।’

akshay-kumar

‘मुझे पर्सनली हमेशा से मीडिया की ताकत में बहुत विश्वास रहा, अगर मीडिया सही मुद्दे सही वक्त पर न उठाए तो शायद बहुत से लोगों को न आवाज मिलेगी न इंसान। मैं मीडिया से रिक्वेस्ट करता हूं कि वो अपना काम, अपनी आवाज उठाना जारी रखे. लेकिन प्लीज थोड़ा सेंसेटिवली। क्योंकि एक निगेटिव न्यूज एक इंसान की बरसों की इज्जत और काम, कड़ी मेहनत को बर्बाद करके रख देगा। आखिर में लोगों से एक ही मैसेज ही यार आप सभी ने तो हमें बनाया है। आपका विश्वास जाने नहीं देंगे. अगर आपको कोई नाराजगी है तो हम और मेहनत करेंगे। आपका प्यार और विश्वास जीत कर रहेंगे. आप हैं तो हम हैं, बस साथ बनाए रखना।’