भारत और चीन कलह पर हमारे देश की दो प्रमुख पार्टियों बीजेपी व कांग्रेस इन दिनों आमने सामने हैं। इन दिनों दोनों के बीच सोशल मीडिया पर ‘बयान वार’ थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। लद्दाख संघर्ष के बाद से ही कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दल बीजेपी को घेरने में लगे हुए हैं।

rahul-ghandhi

सोर्स : गूगल

पिछले कुछ दिनों मैं हमारे देश मैं चीन के विवाद पर सारी पार्टी आमने सामने आ गई हैं, इस दौरान पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बीजेपी पर लद्दाख में चीनी सेना द्वारा भारत की कई एकड़ ज़मीन पर कब्ज़ा करने का आरोप लगाया था। राहुल गांधी के इस बेतुके बयान को लेकर बीजेपी आला कमान ने कड़ा ऐतराज़ जताया था। इसे सेना का मनोबल गिराने वाला बयान बताया था।

india-china-faceoff

सोर्स : गूगल

इस बीच बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी एक ट्वीट कर सोशल मीडिया पर तहलका मचा दिया था। बता दें की भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने अपने ट्वीट मैं पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह को आडो हाथो लिया था और कहा था, आप उसी पार्टी से जुड़े हैं, जिसने चीनियों के सामने आत्मसमर्पण कर भारत की 43,000 किलोमीटर ज़मीन चीन को समर्पित कर दी थी। यूपीए के कार्यकाल में बिना किसी रणनीतीक लड़ाई के इसे चीन के हवाले कर दिया गया था।

Manmohan-Singh

अब आप सोच रहे होंगे कि ये ट्वीट तो सही फिर इतना हंगामा क्यों हो गया ? तो आपको बताये 43,000 किलोमीटर हैं वजह!

बता दें कि कश्मीर से कन्याकुमारी तक की कुल दूरी को देखें तो ये केवल 3676 किलोमीटर है। जबकि जेपी नड्डा कह रहे हैं कि कांग्रेस ने अपने कार्यकाल में 43,000 किलोमीटर ज़मीन चीन को समर्पित कर दी थी।

फिर तो आप जानते ही हैं ट्विटर सेना को ! ट्विटर सेना इस पर ऐसे-ऐसे जवाब दिए पूछो मत-