भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज चेतन चौहान का 73 वर्ष की उम्र में निधन हो गया है। चेतन चौहान कोरोना से संक्रमित थे। चेतन चौहान को गुरुग्राम के मेदातां अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इलाज के दौरान किडनी फेल होने के चलते चेतन चौहान का निधन हो गया।

chetan-chauhan

73 वर्षीय चेतन चौहान की एक दिन पहले ही तबीयत और बिगड़ गई थी. उनकी किडनी फेल हो गई थी। जिसके कारण उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया था। जुलाई के महीने में ही चेतन चौहान की कोरोना वायरस रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

क्रिकेट के बाद चेतन चौहान ने राजनीति में अपनी पारी की शुरुआत की। चेतन चौहान भारतीय राजनीति में सक्रिय भूमिका अदा कर रहे थे। चेतन चौहान भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से लोकसभा सांसद भी रह चुके हैं। 1991 और 1998 के चुनाव में वह बीजेपी के टिकट पर सांसद बने थे। फिलहाल चेतन चौहान उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में मंत्री पद पर थे।

वर्तमान में चेतन चौहान अमरोहा जिले की नौगांवा विधानसभा के विधायक थे। वहीं चेतन चौहान योगी सरकार के दूसरे कैबिनेट मंत्री हैं, जिनका कोरोना वायरस के कारण निधन हुआ है।

chetan-chauhan-up-mantri

सुनील गावस्कर के सलामी जोड़ी के तौर पर मशहूर रहे चेतन चौहान ने खूब सुर्खियां बटोरीं थीं। गावस्कर और चौहान की जोड़ी ने टेस्ट की 60 पारियों में 54.85 की औसत से 3127 रन बनाए। दोनों ने कुल 11 शतकीय साझेदारियां कीं, जिनमें से 10 पहले विकेट के लिए रहीं।