सरकार ने 4 मई से सभी ज़ोन्स में शराब की दुकाने खोलने ने का आदेश दिया था उसके बाद हमने देखा किस तरीके से लोगो मैं उत्साह देखा गया था यहाँ तक कई जगहों पर तो दुकानदारों ने फूल बरसाए थे शराब लेने वालो पे और शराब लेने वाली ने भी पूजा अर्चना की थी शराब दुकानों जो की सोशल मीडिया मई बहुत ही जयादा वायरल हुआ था। शराब की दुकाने खुलने की वजह से लोगो मैं बहुत उत्साह देखा गया जैसे की अभी कोरोना की वजह से हमारे यहाँ लॉक डाउन का तीसरा फेज चल रहा था और समय शरभ की दुकाने खुलने से शराब पीनेवालों मई बहुत ही जयादा उत्साह देखा गया।

लिकर शॉप खुलने के बाद हमने देखा की किस तरह लोग लम्बी लम्बी कतारो में देखे, कही कही लोग सोशल डिस्टैन्सिंग का पालन करते नजारा आये तो कही पर पुलिस को पालन करवाना पड़ा। यही हालत हमारे पुरे देश का हाल है।

अब अगर दिल्ली की बात करे तो यहाँ पर भी शराब की दुकानों मैं लम्बी लम्बी कतारे देखने को मिली। अब दिल्ली सरकार ने शराब पर कोरोना टैक्स लगाने का फैसला किया हैं। दिल्ली सरकार ने सोमवार रात बड़ा फैसला लेते हुए शराब के रेट में 70 फीसदी बढ़ोत्तरी कर दी। दिल्ली सरकार ने यह टैक्स ‘स्पेशल कोरोना फीस’ के तहत बढ़ाया है। बढ़े हुए दाम मंगलवार से लागू हो जाएंगे।

दिल्ली सरकार ने एमआरपी पर 70 फीसदी टैक्स की घोषणा की है यानी दिल्ली में जो शराब की बोतल 1000 रुपये में मिलती होगी, वो मंगलवार से 1700 रुपये की मिलेगी। इससे पहले सोमवार दिनभर शराब की दुकानों पर लोगों की भीड़ देखी गई। कोरोना को फैलने से रोकने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग पर जोर हैं पर शराब के शौकीनों को बस बोतल दिखाई दे रही थी।

सोर्स – नवभारत टाइम्स

सूत्रों ने बताया कि दिल्ली सरकार द्वारा शराब पर भारी भरकम टैक्स लगाए जाने के बाद लोगो ने सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी प्रतिक्रियाएँ दी :

अब आप अपने कमैंट्स करके बताये क्या सही चीज़ो के लिए भी इतनी बड़ी कॉस्ट होती है।