शारजाह क्रिकेट स्टेडियम में रविवार की रात मैं रनों की बारिश हुई, रविवार की रात मैं बने रनो ने आईपीएल मैं रिकॉर्ड बन गया।

पहले बल्लेबाजी के लिए उतारी गई किंग्स इलेवन पंजाब की टीम ने 223/2 रन बनाकर सोचा तक नहीं होगा कि उसे अगले कुछे घंटों में हार का सामना करना पड़ेगा।

शारजाह के छोटे ग्राउंड पर जिसका ‘डर’ था वही हुआ। छोटी बाउंड्री का बल्लेबाजों ने जमकर इस्तेमाल किया और छक्कों की झड़ी लगा दी। 27 साल के राहुल तेवतिया को राजस्थान रॉयल्स के कप्तान स्टीव स्मिथ ने कुछ सोच कर ही चौथे नंबर पर बैटिंग करने भेजा था। थोड़ी देर से ही सही, लेकिन जब उन्होंने तेवर दिखाने शुरू किए तो किंग्स इलेवन पंजाब के होश उड़ गए।

Yuvraj-Singh-on-Rahul-Tewatia

आखिरी तीन ओवरों में 51 रन चाहिए थे और राहुल तेवतिया 23 गेंदों में 17 रन बनाकर खेल रहे थे और यहीं से उन्होंने मैच का पासा ही पलट दिया। तेवतिया ने शेल्डन कॉट्रेल की पारी के 18वें ओवर में तूफान खड़ा कर दिया। उन्होंने 5 छक्के लगाकर पूरे समीकरण ही बदल दिए।

ये मैच देख रहे टीम इंडिया के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज़ युवराज सिंह भी तेवतिया के इस तेवर से दंग रह गए। तेवतिया लगातार चार गेंदों पर चार छक्के लगा चुके थे। अब पांचवीं गेंद की बारी थी… लेकिन इस गेंद पर तेवतिया चूक गए।

yuvraj-twitter

तभी तो युवराज ने ट्वीट कर लिखा, ‘मिस्टर राहुल तेवतिया… ना भाई ना! एक गेंद मिस करने पर आपको धन्यवाद।’ दरअसल, उन्हें 13 साल पुराने अपने छह छक्कों के रिकॉर्ड की याद आ गई थी।

युवराज सिंह 2007 ने दक्षिण अफ्रीका में खेले गए पहले टी-20 वर्ल्ड कप में इंग्लैंड के स्टुअर्ट ब्रॉड के एक ओवर की सभी 6 गेंदों पर 6 छक्के जड़े थे। क्रिकेट की दुनिया में अब तक कई बार यह कारनामा देखने को मिला है। तेवतिया ने एक गेंद मिस न किया होता तो वह भी इस फेहरिस्त में शामिल हो गए होते।