एक्ट्रेस कंगना रनौत और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बीच लड़ाई बढ़ती जा रही है। कंगना लगातार उद्धव और शिवसेना पर हमले कर रही हैं। बीएमसी ने कंगना के दफ्तर पर बुलडोजर चलाया लेकिन इससे कंगना के हमले की धार कम नहीं हुई है। कंगना ने आज उद्धव को वंशवाद का नमूना तो शिवसेना को सोनिया सेना तक कह डाला।

kangana-actress

कंगना रनौत से हमले से शिवसेना तिलमिला गई है और वह एक्ट्रेस को उसी के अंदाज में जवाब दे रही है। कंगना ने कहा था कि 9 सितंबर को आ रही हूं मुंबई, क्या उखाड़ लोगे। इसके बाद बीएमसी ने कंगना के दफ्तर में तोड़फोड़ की और शिवसेना के मुखपत्र सामना में लिखा कि ‘उखाड़ दिया।’

saamna-News

सोर्स : गूगल

कंगना के खिलाफ मुकदमा दर्ज

सीएम उद्धव ठाकरे से पंगा लेना कंगना रनौत को महंगा पड़ता दिखाई दे रहा है। विक्रोली पुलिस स्टेशन में कंगना के खिलाफ शिकायत की गई है। शिकायतकर्ता ने कहा है कि कंगना ने सीएम उद्धव ठाकरे के खिलाफ अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल किया। इसके बाद कंगना के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है।

कंगना मसले पर राज्यपाल कोश्यारी एक्टिव

इस मामले में अब महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी एक्टिव हो गए हैं और उन्होंने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के मुख्य सलाहकार अजेय मेहता से चर्चा की। राज्यपाल ने कार्रवाई पर नाराजगी जताई। अजेय मेहता ने कहा कि वो सीएम उद्धव को जानकारी दे देंगे। वहीं, राज्यपाल कोश्यारी इस विषय पर केंद्र को एक रिपोर्ट देने वाले हैं।

kangana1

कंगना रनौत के तेवर ईट का जवाब पत्थर से देने का दिख रहा। वो मुंबई में रहती हैं। एक्टिंग उनका पेशा है । बॉलीवुड से उन्हें रोजी-रोटी मिलती है। जिस मुंबई पर शिवसेना का सियासी वर्चस्व है, वहां उनका घर-दफ्तर सबकुछ है, लेकिन कंगना डट गई हैं और एक के बाद एक उद्धव सरकार पर हमले कर रही हैं।