बीते हुए शुक्रवार को केरल कोझिकोड एयरपोर्ट पर लैंडिंग कराते समय दुबई से आ रहा एयर इंडिया एक्सप्रेस का एक विमान दो हिस्सों में टूट गया। रिपोर्ट के अनुसार, हादसे में पायलट और को-पायलट समेत 18 लोगों की मौत हो गई।

plane_crash_2_kerala

ख़बरों के अनुसार, कैप्टन दीपक वसंत साठे और को-पायलट अखिलेश कुमार पैंसजर्स को बचाने के लिये आख़िरी वक़्त तक लगे रहे। पर काफ़ी कोशिशों के बावज़ूद वो इस घटना को न टाल सके। कैप्टन दीपक वसंत साठे और को-पायलट अखिलेश कुमार देश के बेहतरीन पायलट में से एक थे। आज उनकी बॉडी मुंबई उनके घर भेजी गयी।

sathe-air-india-crace

कौन थे कैप्टन दीपक वसंत साठे?

Captain-Deepak-Vasant-Sathe-and-His-Wife

कैप्टन दीपक वसंत साठे ने 22 साल तक एयरफ़ोर्स में बतौर विंग कमांडर काम किया। इसके अलावा उन्होंने मिग-21 जैसे लड़ाकू विमान भी उड़ाये थे। उन्हें सोर्ड ऑफ़ ऑनर से भी सम्मानित किया जा चुका था। कैप्टन साठे को बोइंग 737 विमानों को उड़ाने का काफ़ी भी अनुभव था। PTI से बातचीत करते हुए, रिटायर्ड एयर मार्शल भूषण गोखले ने बताया कि कैप्टन साठे NDA के 58वें कोर्स से थे। वो जूलियट स्क्वाड्रन से थे, 59 वर्षीय साठे ने 11 जून 1981 में एयरफ़ोर्स जॉइन किया था और 30 जून 2003 को वो रिटायर हो गये थे।

sathe

वहीं को-पायलट अखिलेश कुमार की पिछले वर्ष ही शादी हुई थी। वो उड़ान वंदे भारत मिशन का हिस्सा भी थे।