पंजाब जेल के डीआईजी लखविंदर सिंह जाखड़  ने किसान आंदोलन को समर्थन देते हुए अपना इस्तीफा पंजाब सरकार को दे दिया है। हलाकि उनके इस्तीफे को अभी सरकार द्वारा मंजूरी नहीं मिली है।

सोर्स : गूगल

56 वर्षीय लखविंदर सिंह जाखड़ ने एक इंटरव्यू के दौरान यह बात कही की ” किसान पिछले तीन महीनो से शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर रहे है ऐसे में ये बड़े ही दुर्भाग्य की बात है की उनकी समस्या को कोई सुन नहीं रहा है। सरकार को जल्दी से जल्दी इस मामले को सुलझाना चाहिए। ऐसे ही किसी को इतनी ठण्ड में आ के सड़को में बैठने का शोक नहीं लगा।”

punjab-dgसोर्स : गूगल

आपको बता दे की कुछ ही समय पहले लखविंदर सिंह जाखड़ ने तब सुर्खिया बटोरी थी जब उन्हें मई में जेल अधिकारियों से रिश्वत लेने के आरोप में निलंबित कर दिया गया था और 2012 में लखविंदर सिंह जाखड़ पहली बार सुर्खियों में आये थे जब उन्होंने पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री के हत्यारे बलवंत सिंह राजोना की मौत की सजा का वारंट लौटा दिया था।

 

 

farm-law-protestसोर्स : गूगल

लखविंदर सिंह जाखड़ ने बताया की उनकी माता ने उन्हें इस्तीफा देने के लिए प्रोत्साहित किया ताकि वह किशानो का समर्थन कर सके।