प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से पीएम केअर्स फंड के पैसे आवंटित करने की जानकारी दी गई है. कोरोना से लड़ाई के लिए पीएम केयर्स फंड से 3100 करोड़ आवंटित किए गए हैं.

3100 करोड़ में से 2000 करोड़ रुपये वेंटिलेटर खरीदने के लिए इस्तेमाल किए जाएंगे। 1000 करोड़ रुपये का इस्तेमाल प्रवासी मजदूरों की देखभाल के लिए किया जाएगा और 100 करोड़ रुपये वैक्सीन के लिए रिसर्च पर खर्च किए जाएंगे। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस की वजह से फैले संकट को देखते हुए पीएम केअर्स फंड की शुरुआत की थी और लोगों से इसमें दान करने की अपील की थी. कोरोना संकट को लेकर बनाए गए पीएम केअर्स फंड पर विपक्ष मोदी सरकार पर हमला करते आया है. कांग्रेस की ओर से इसका ऑडिट कराने की मांग भी की जा चुकी है.

प्रवासी मजदूरों को मिलेंगी ये सुविधा :

प्रवासियों और गरीबों के कल्याण के लिए उठाए जा रहे मौजूदा उपायों को और मजबूत करने के लिए राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को 1 हजार करोड़ दिए जाएंगे. इस राशि का इस्तेमाल उनके रहने की व्यवस्था, खाने के इंतजाम, मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए किया जाएगा.

कोरोना वायरस की वजह से फैले संकट को देखते हुए पीएम केअर्स फंड की शुरुआत की गई थी ।