सरकार और किसानो के बीच चल रहे संघर्ष में बातचीत का दौर भी जारी हे, आज किसान सगठनो और सरकार के बीच 6 दौर की बातचीत होने वाली थी और सभी को किसी न किसी समझौते की उम्मीद थी , पर इस उम्मीद को तब धक्का लगा जब यह वार्ता टालने की खबर आने लगी।

farmers-protest

इस बीच कृषि कानूनों के विरोध में 14वें दिन भी किसानों का आंदोलन (Farmers Protest) जारी है और किसान दिल्ली की सीमाओं पर धरने पर बैठे हैं. किसानों और सरकार के बीच आज होने वाली छठे दौर की वार्ता टल गई है. दोनों पक्षों के बीच अब गुरुवार को बातचीत हो सकती है ।कल देर शाम किसानों और गृह मंत्री की हुई बैठक भी बेनतीजा निकली। सरकार कृषि कानूनों को लेकर सख्त हे पर वो संशोधन के लिए तैयार हे पर किसान तीनो नए कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग पर अड़े हे।

farmers

 

आज सरकार अपने संशोधित प्रस्ताव किसान संगठनों को भेजेगी। सरकार के प्रस्ताव पर चर्चा के लिए किसान संगठनों की सिंघु बॉर्डर पर आज बैठक होगी, जिसमें आंदोलन की आगे की रणनीति पर भी चर्चा होगी.