विशाखापत्तनम में एक रासायनिक संयंत्र से गैस रिसाव से कथित तौर पर दो बच्चों सहित गयारह लोगों की मौत हो गई। जबकि 300 लोग अस्पताल में भर्ती हो चुके हैं, 3000 अन्य को रेस्क्यू किया गया ।

यह रासायनिक संयंत्र बहुराष्ट्रीय फर्म एलजी पॉलिमर इंडिया प्राइवेट लिमिटेड का था। यह प्लान्ट पॉलीस्टायरीन और एक्सपेंडेबल पॉलीस्टायरीन बनाता है – एक “बहु उपयोगी प्लास्टिक है ” जिसका उपयोग खिलौने और उपकरणों जैसे विभिन्न उत्पादों को बनाने के लिए किया जाता है।

इस घटना की जानकारी ट्विटर पर ग्रेटर विशाखापत्तनम नगर निगम द्वारा दी की गई थी।

संयंत्र के पास के क्षेत्रों में रहने वाले नागरिकों से घर के अंदर रहने और गीले मास्क या कपड़े से अपना चेहरा / नाक / मुंह ढकने का अनुरोध किया गया है।

कुछ विचलित करने वाले दृश्य : कई लोगों और जानवरो को सड़क पर बेहोश पड़ा देखा गया है।

लोगो मैं देखे गए लाक्षण : आंखों में जलन, सांस फूलने के अलावा, कुछ लोगो ने अपने शरीर पर चकत्ते की शिकायत भी की है।


सोर्स : NEWS18

घटना की जानकारी मिलने के तुरंत बाद अधिकारी मामले की जांच कर रहे हैं और साथ ही उन पीड़ित लोगों की मदद कर रहे हैं जो गैस रिसाव से प्रभावित हुए हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी लिया मामले का जायजा :

आंध्र प्रदेश पुलिस द्वारा प्रभावित क्षेत्र के आसपास रहने वाले लोगों के लिए निवारक उपायों की जानकारी दी गई है:

हम विज़ाग मैं पीड़ित के लोगो के लिए प्राथना करते हैं।