इस कोरोना के समय मैं जहा गुजरात और महाराष्ट्रा सबसे अधिक प्रभावित हुए हैं वही अब भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार, अरब सागर में एक तूफान एक धातक तूफान में बदल गया है और अगले 12 घंटों के दौरान चक्रवाती तूफान में परिवर्तन होने की संभावना है। तूफान बुधवार दोपहर 3 जून तक महाराष्ट्र और गुजरात में आने की संभावना है, इसे ‘निसर्गतूफान कहा जाता है।

अब इतनी आपदाये एक ही साल मैं आना ये किसी को भी आश्चर्यचकित कर देगा।

nisarg-cyclone

मुंबई और सभी पड़ोसी जिलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है। पीएम मोदी ने भी उसी के बारे में ट्वीट किया और लोगों से आवश्यक सावधानी बरतने का आग्रह किया।

राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) की 30 से अधिक टीमों को महाराष्ट्र और गुजरात में तैनात किया गया है। छह टीमें महाराष्ट्र में स्टैंडबाय पर और 2 टीमें गुजरात में हैं।

मुंबई में जून के महीने ऐसा पहले बार होगा जब कोई चक्रवाती तूफान आएगा।