भारत में प्रत्यर्पण के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे शराब कारोबारी विजय माल्या ने सरकार से कहा है कि वह अपने सभी ऋण बकाया को चुकाने के लिए उसके प्रस्ताव को स्वीकार करे और उसके खिलाफ मामला बंद करे।

माल्या ने ट्विटर पर जाकर कोरोनो वायरस पैकेज पर सरकार को बधाई दी और फिर दावा किया कि केंद्र कभी भी करेंसी को प्रिंट कर सकता हैं, मेरे द्वारा की गई भुगतान करने का अनुरोध जिस पर कभी धयान नहीं दिया गया। मैं बैंक का लोन अमाउंट पे कर देता हूँ हुए मेरा केस क्लोज करो।

फिर क्या था ट्विटर उपयोगकर्ता ने माल्या का जवाब दिया :

यह पहली बार नहीं है जब माल्या ने आरोप लगाया है कि उसने बकाया राशि का भुगतान करने की पेशकश की है, लेकिन न तो बैंक पैसे लेने के लिए तैयार थेऔर न ही प्रवर्तन निदेशालय।